UPSC Kya Hai – UPSC 2023 की पूरी जानकारी हिंदी में | UPSC kya Hota Hai in Hindi | UPSC Full Form

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका एक नए ब्लॉग पोस्ट में आपने कभी ना कभी UPSC का नाम जरूर सुना होगा और आप यह भी जानते होंगे कि UPSC भारत की सबसे कठिन परीक्षा है। यूपीएससी का नाम सुनने के बाद आपके मन में यह प्रश्न जरूर आता होगा कि यूपीएससी क्या है (UPSC Kya Hai) , UPSC Kya Hota Hai In Hindi, यूपीएससी का पूरा नाम क्या है UPSC Kya Hai In Hindi

Contents hide

यदि आपके मन में भी यह सारे प्रश्न आते हैं और आप यूपीएससी के बारे में अधिक जानकारी खोज रहे हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आये हैं। आज हम आपको बताने जा रहे है कि UPSC क्या होती है और इसकी पूरी जानकारी देंगे । इसके लिए नीचे लिखी जानकारी (UPSC Kya Hai In Hindi full detail) को पूरा पढ़ना होगा।

UPSC Kya Hai?

UPSC केंद्र सरकार की नौकरियां Level A और Level B के कर्मचारियों की भर्ती के लिए एक सवतंत्र संगठन है। यूपीएससी भारत की आजादी के पहले PSC यानी कि Public Service commission (लोक सेवा आयोग) के नाम से जानी जाती थी और इसकी स्थापना 1 अक्टूबर 1926 को देश की आजादी के पहले हुई थी।

लेकिन आजादी के बाद 26 अक्टूबर 1950 को इसका नाम बदलकर union public service commission (संघ लोक सेवा आयोग) कर दिया गया जिसे हम लोग यूपीएससी के नाम से जानते हैं। इस संशोधन का संबंध संविधान के अनुच्छेद (article) 315 से है।

यूपीएससी का मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है, यूपीएससी की ऑफिशियल वेबसाइट https://www.upsc.gov.in/ है। UPSC देश में हर साल सिविल सेवा परीक्षा (civil service examination) आयोजित करता है, Upsc का मुख्य कार्य है कि वह प्रथम श्रेणी(Level A) के अधिकारियों का तथा द्वितीय श्रेणी(Level B) के अधिकारियों का चयन करें तथा सिविल सेवकों का भी चयन करें।

WhatsApp Group Join Now
upsc kya hai

UPSC एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है जो भारत की केंद्र और राज्य सरकार के तहत 24 सेवाओं में भर्ती के लिए जिम्मेदार है। UPSC Exam भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। UPSC के माध्यम से ही हमारे देश भारत में IAS, IPS, IFS, IRS के अधिकारियों का चयन किया जाता है UPSC भारत के केंद्रीय संस्था है।

यूपीएससी परीक्षा 2023

यूपीएससी परीक्षा 2023 नोटिफिकेशन की रिलीज की तारीख 1 फरवरी 2023 है। यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 28 मई, 2023 को आयोजित की जाएगी।आईएएस परीक्षा से संबंधित महत्वपूर्ण तिथियां नीचे दी गई हैं :-

आयोजनमहत्वपूर्ण परीक्षा तिथियां
यूपीएससी सीएसई 2023 नोटिफिकेशन जारी होने की तिथि01 फरवरी 2023
यूपीएससी सीएसई 2023 आवेदन प्राप्त करने की अंतिम तिथि21 फरवरी 2023
यूपीएससी सीएसई 2023 प्रारंभिक परीक्षा शुरू होने की तिथि28 मार्च 2023
सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा के प्रारंभ होने की तिथि, 202315 सितंबर 2023

UPSC FULL FORM IN HINDI AND ENGLISH

अब हम आपको यूपीएससी का पूरा नाम यानि के UPSC Full Form बतायेगे|   

UPSC का फुल फॉर्म (UPSC Full Form in Hindi and English) Union Public Service Commission होता है.

Union Public Service Commission (UPSC) को हिंदी में ‘संघ लोक सेवा आयोग’ कहा जाता है।

U -Union

P -Public

S -Service

C -Commission.

Union Public Service Commission हिंदी में मतलब संघ लोक सेवा आयोग होता हैं| तथा यूपीएससी (U.P.S.C.) इसका संक्षिप्त रूप होता हैं|

UPSC के तहत आने वाले पद –Posts under UPSC

UPSC (Union Public Service Commission) के चयनित उम्मीदवार भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS) और भारतीय राजस्व सेवा (IRS), भारतीय विदेश सेवा (IFS) आदि पदों पर भर्ती किये जाते हैं। UPSC द्वारा level A और Level B officers की विभिन्न क्षेत्रों में भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाता है।

PostFull Form
IASIndian Administrative Service
भारतीय प्रशासनिक सेवा
IPS Indian Police Service
भारतीय पुलिस सेवा
IFS Indian Foreign Service
भारतीय विदेश सेवा
IRSIndian Revenue Service
भारतीय राजस्व सेवा

UPSC हर साल सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करता है। UPSC एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है जो भारत की केंद्र और राज्य सरकार के तहत 24 सेवाओं में भर्ती के लिए जिम्मेदार है।

यूपीएससी के कार्य

संविधान के अनुच्छेद 320 के तहत अन्‍य बातों के साथ-साथ सिविल सेवाओं तथा पदों के लिए भर्ती संबंधी सभी जिम्मेदारियां आयोग के पास है, ऐसे किसी भी मामले में योग का परामर्श लिया जाना अनिवार्य होता है। संविधान के अनुच्छेद 320 के अंतर्गत UPSC के कार्य कुछ इस प्रकार हैं :-

  • विभिन्न सिविल सेवाओं से सम्बंधित अनुशासनिक मामले देखना
  • भारत के राष्ट्रपति दुवारा आयोग के किसी भी मामले में सरकार को परामर्श देना
  • सरकार के आधीन विभिन्न सेवाओं तथा पदों के लिए भर्ती नियम तैयार करना तथा उनमे होने वाला संशोधन भी यही आयोग करता हैं
  • संघ लोक सेवा आयोग वह आयोग हैं| जो साक्षत्कार के माध्यम से सीधा भर्ती के लिए चयन करता हैं
  • भारतीय संघ के पदों के लिए परीक्षा का आयोजन यूपीएससी दुवारा ही किया जाता हैं
  • साक्षात्‍कार द्वारा चयन से सीधी भर्ती
  • प्रोन्‍नति/ प्रतिनियुक्‍ति/ आमेलन द्वारा अधिकारियों की नियुक्‍ति

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के लिए पात्रता (ELIGIBILITY CRITERIA)

हमने यह पर आपके लिए कुछ योग्यता के पॉइंट्स लिखे जिससे आपको समझने में आसानी हो ये पॉइंट्स कुछ इस प्रकार है :-

शैक्षिक योग्यता (EDUCATIONAL QUALIFICATION)

अभ्यर्थी का किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक (graduation) किया होना चाहिए। इसके अलावा फाइनल ईयर के विद्यार्थी भी इस परीक्षा में बैठ सकते है।

संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित की जाने वाली Civil Service परीक्षा के माध्यम से 24 तरह की सिविल सेवाओं के लिए यूपीएससी के पद भरे जाते हैं। U.P.S.C. की परीक्षा देने के लिए आपको किसी भी मान्यताप्राप्त विष्वविधालय से Graduate होना चाहिए।

यानि के आपके पास किसी भी मान्यता प्राप्त विष्वविधालय की Bachelor Degree होनी चाहिए। ये Bachelor Degree कोई भी हो सकती हैं जैसे- B.A. , B.S.C., B-COM , B.B.A., B-Tech आदि। आपने कोई भी Bachelor Degree प्राप्त की और उसमे आपके कम Marks आये हैं| तो ऐसा नहीं हैं| के आप यूपीएससी की परीक्षा नहीं दे सकते Graduation में Marks कम आने पर भी आप यूपीएससी की परीक्षा देने योग्य माने जाते हैं।

नागरिकता (CITIZENSHIP)

  • भारतीय नागरिक (Indian Citizens)
  • तिब्बत के शरणार्थी (Tibet Refugees)
  • नेपाली नागरिक (Nepal Citizens)
  • भूटानी नागरिक (Bhutan Citizens)

लेकिन IPS और IAS बनने के लिए भारतीय नागरिक होना जरूरी है।

आयु सीमा (AGE LIMIT)

UPSC सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होने के लिए न्यूनतम आयु 21 साल है। एवं विभिन्न वर्गों के लिए अधिकतम आयु सीमा नीचे की तालिका में दिया जा रहा है। विकलांग (PWD) श्रेणी के लिए आयु सीमा और भी ज्यादा है।

श्रेणीअधिकतम आयु
सामान्य32 साल
पिछड़ा वर्ग (OBC)35 साल
एससी /एसटी37 साल
Age limit for UPSC

कौन से अभ्यर्थी UPSC CSE का फॉर्म नहीं भर सकते हैं?

जो अभ्यर्थी पिछले किसी भी परीक्षा में IAS या IFS में चयन (select) हो चुके है। वह दोबारा फॉर्म नहीं भर सकते है।

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा का फॉर्म भरते समय आपको ये निम्नलिखित जानकारी देनी होगी

  • पसंद की सर्विसेज का क्रम (service preference)
  • पसंद के राज्यों की सूची का क्रम (जहां आप काम करना पसंद करेंगे)
  • प्रारंभिक परीक्षा के लिए सेंटर
  • मूलभूत जानकारी (basic information)
  • परीक्षा का माध्यम (हिंदी या अंग्रेजी)

UPSC सिविल सर्विस एग्जाम के लिए ATTEMPTS

श्रेणीअटेंप्ट्स
सामान्य6
पिछड़ा वर्ग (OBC)9
एससी /एसटीअनलिमिटेड

Note : फॉर्म भरने को Attempt count नहीं किया जाता है। बल्कि प्रारंभिक परीक्षा के किसी भी एक पेपर में शामिल होने को अटेंप्ट काउंट किया जाता है।

UPSC 2023 से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

परीक्षा का नामयूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा
संक्षिप्त नामUPSC CSE 
आयोजकसंघ लोक सेवा आयोग
आवेदन करने का मोडऑनलाइन
परीक्षा का मोडऑफलाइन
परीक्षा के चरणप्रारंभिक, मुख्य एवं साक्षात्कार
प्रमुख पदआईएएस, आईपीएस, आदि
आधिकारिक वेबसाइटupsc.gov.in

यूपीएससी एग्जाम का सिलेबस (UPSC exam syllabus)

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के प्रीलिम्स में 2 पेपर होते है।

प्रारंभिक परीक्षा पेपर-1(GAT): वर्तमान देश की सभी घटनाएं, भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास, राज व्यवस्था और शासन, पर्यावरण ,भारत एवं विश्व का भूगोल, आर्थिक और सामाजिक व्यवस्था से संबंधित जानकारी

प्रारंभिक परीक्षा पेपर-2(CSAT): पारंपरिक और संचार कौशल, तार्किक विश्लेषण, सामान्य ज्ञान एवं मानसिक क्षमता, निर्णय लेने की शक्ति तथा समस्या का समाधान, गणित (दसवीं स्तरीय) और अन्य विषयो से सम्बंधित प्रश्न होते है।

मुख्य परीक्षा(mains): भारत की प्राचीन विरासत एवं संस्कृति, आचार नीति, विश्व एवं सामाजिक इतिहास तथा भूगोल, न्याय एवं अंतरराष्ट्रीय संबंध, टेक्नोलॉजी, आर्थिक विकास, विभिनता एवं आपदा प्रबंधन, संविधान, राजतंत्र, अखंडता एवं जैव विविधता इत्यादि प्रकार के प्रश्न पूछे जाते है।

UPSC भर्ती प्रक्रिया 

UPSC Prelims Exam pattern:-

prelims की परीक्षा में कुल 2 पेपर होते हैं जिनका अंको को मेरिट लिस्ट में नहीं जोड़ा जाता है। हां लेकिन यह जरूरी है कि मेंस की परीक्षा में बैठने के लिए prelims में कम से कम 33% अंक लाना अनिवार्य है। इसमें नकारात्मक अंक की प्रक्रिया अपनाई जाती है जिसमे अभ्यर्थियों द्वारा गलत उत्तर देने पर उनके प्राप्त अंको में से 1/3 अंक काट लिए जाते हैं।

PaperTypeNo. of questionsMarksDuration
General Studies IObjective1002002 hours
General Studies II (CSAT)Objective802002 hours

Mains परीक्षा की प्रक्रिया:

Prelims की परीक्षा में उत्तीर्ण विद्यार्थी को मेंस की परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाता है। इसमें कुल 9 पेपर होते हैं जो लिखित प्रश्न पत्र के आधार पर आते हैं। इनमें 2 भाषा के लिए प्रश्न पत्र होते हैं। मेंस की परीक्षा की अवधि लगभग 7 दिन तक का होता है। विद्यार्थी को साक्षात्कार तक पहुंचने के लिए मेंस की परीक्षा में 25% अंक लाना अनिवार्य है। पेपर की सूची कुछ इस प्रकार है :-

सामान्य अध्ययन4 पेपर
निबंध1 पेपर
अंग्रेज़ी1 पेपर
भाषा1 पेपर
ऑप्शनल सब्जेक्ट4 पेपर
कुल पेपर9
कुल अंक1750

साक्षात्कार (Interview):

Personal Interview यूपीएससी का आखरी चरण होता है। मेंस की परीक्षा में उत्तीर्ण विद्यार्थी को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। मेंस की परीक्षा कोई 1750 अंक तथा साक्षात्कार की परीक्षा 275 अंक का होता है। इस प्रकार मेरिट लिस्ट के लिए कुल 2025 अंको की परीक्षा ली जाती है।

इसमें विद्यार्थी के व्यक्तित्व, लक्षण, गुण, भाषा की शैली और विचारों को देखा जाता है। साथ ही साथ कुछ सामान्य ज्ञान और वर्तमान जनित घटनाओं से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इंटरव्यू में पूछे जाने वाले प्रश्न पहले से निर्धारित नहीं होते है।

ज्यादातर प्रश्न आपके Detail application form से ही पूछे जाते है इसलिए इस बात का बहुत खास ख्याल रखिए कि जब आप अपना Detail application form भरे तो आप उसको पूरी ईमानदारी से भरे। इसकी इंटरव्यू लगभग 20 दिन तक चलती है और इंटरव्यू खत्म होने के 10 दिन बाद ही फाइनल रिजल्ट आ जाता है।

यूपीएससी एग्जाम के बाद सैलरी-

UPSC द्वारा सिविल सर्विस की परीक्षा मे चयनित छात्रों को विभिन्न पदों पर (जैसे-IAS, IPS, IFS, IRS आदि) उनके रैंक के आधार पर नियुक्त किया जाता है। सभी अधिकारियों का वेतन उनके position(पद) के अनुसार दिया जाता है। वेतन में बहुत ज्यादा का अंतर नहीं होता, परंतु IAS को अन्य सभी के अपेक्षा मूल वेतन में कुछ अधिक राशि दि जाती हैं। यह तथ्य सही है कि मूल वेतन के अतिरिक्त अन्य सभी सुविधाएं प्रत्येक सिविल सर्विस अधिकारी को समान दिया जाता है।

पोस्टप्रारंभिक वेतनअधिकतम वेतन
IAS56,1002,50,000
IPS56,1002,25,000

ट्रेनिंग के दौरान लगभग ₹45000 दिए जाते हैं लेकिन एक जिला अधिकारी के रूप में नियुक्त होने के बाद IAS और IPS का प्रारंभिक वेतन एक समान ( 56,100 रुपए) मिलता है।

IPS का उच्चतम वेतन 2,25,000 रुपए जबकि IAS को 2,50,000 रुपए दिया जाता है। सैलरी देने की यह प्रक्रिया सातवें वेतन आयोग के आधार पर हुआ है। और इसके अलावा सभी सरकारी सुविधाए जैसे इलाज, शिक्षा आदि मिलती है। इसके अतिरिक्त सभी अधिकारियों को लगभग समान राशि दी जाती है।

यूपीएससी(UPSC) की तैयारी कैसे करें(UPSC ki Taiyari Kaise Karen)

UPSC जैसे एग्जाम को पास करना एक बहुत ही कठिन विषय है। परीक्षार्थियों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ने के कारण तथा सीटों की संख्या कम होने के कारण इसमें कम्पटीशन बहुत अधिक है।

UPSC ki Taiyari Kaise Karen

बहुत से विद्यार्थी ऐसे होते हैं जो काफी मेहनत के बावजूद भी सिलेक्ट नहीं हो पाते। उन्हें और सफलता की राह देखनी पड़ती है। इसलिए हमें शुरुआत से ही मेहनत करना चाहिए। इसके लिए कुछ Daily activities है, जिसको छात्रों को ध्यान में रखना होगा। हमने कुछ बिन्दुओ बताए हे जो कुछ इस तरह है

  1. सही कोचिंग संस्थानों का चयन
  2. .समाचार पत्र पढ़ना
  3. प्रतिदिन मॉक टेस्ट देना
  4. नेटवर्क का सही उपयोग
  5. previous year प्रश्न पत्र हल करें
  6. प्लान तैयार करें
  7. NCERT किताबों का चयन

10वीं के बाद यूपीएससी(UPSC) की तैयारी कैसे करें?

हालांकि 10 वीं के बाद आईएएस परीक्षा नहीं दी जा सकती लेकिन आप नीचे दिए गए टिप्स के द्वारा 10 वीं से ही आईएएस बनने की तैयारी शुरू कर सकते हैं। इससे आपको आने वाले समय में इस परीक्षा को पास करने में मदद मिलेगी।

  1. पढ़ाई के साथ ही साथ लेखन करना भी जरूरी है।
  2. बार-बार मोक टेस्ट दीजिए।
  3. रोज़ाना न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पढ़ें।
  4. सबसे पहले एग्जाम की पूरी जानकारी होना जरूरी है।
  5. एग्जाम में आने वाले सिलेबस को समझें।
  6. रणनीति और अध्ययन की सामग्री को इकट्ठा करें।
  7. एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें।

12वीं के बाद यूपीएससी(UPSC) की तैयारी कैसे करें?

अगर आप भी 12वी के बाद UPSC के लिए आवेदन करने का सोच रहे हे तो आपकी जनकती के लिए बता दू की आपके पास कम से कम बैचलर की डिग्री होनी चाहिए। इस एग्जाम के लिए मिनिमम परसेंटेज की कोई शर्त नहीं है। यानी अगर आप ग्रैजुएशन कर चुके हैं तो आप परीक्षा में बैठ सकते हैं।

वैसे इसके लिए आप उस समय भी आवेदन कर सकते हैं जब फाइनल इयर में हों। लेकिन 12वि के तुरंत बाद आप आवेदन नहीं कर सकते परन्तु इसकी तैयारी जरूर शुरू कर सकते है हमने यह कुछ पॉइंट दिए है जिससे आपको तैयारी करने में मदद मिलेगी ये पॉइंट कुछ इस तरह है :-

  • सबसे पहले एग्जाम की पूरी जानकारी होना जरूरी है।
  • एग्जाम में आने वाले सिलेबस को समझें।
  • रणनीति और अध्ययन की सामग्री को इकट्ठा करें।
  • एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें।
  • पढ़ाई के साथ ही साथ लेखन करना भी जरूरी है।
  • बार-बार मोक टेस्ट दीजिए।
  • रोज़ाना न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पढ़ें।

कोचिंग के बिना यूपीएससी(UPSC) की तैयारी कैसे करे ?

हमारे देश में UPSC परीक्षा काफी महत्वपूर्ण और कठिन परीक्षा मानी जाती है, इसके लिए अक्सर छात्र कोचिंग करना पसंद करते है। कोचिंग करने से उनको लगता है कि वे आसानी से इस परीक्षा को पास कर लेगे। लेकिन सही मायनों में इस परीक्षा को पास करने के लिए कोचिंग के साथ साथ एक लक्ष्य और उसके लिए कठिन परीश्रम और धैर्य की जरूरत होती है जिसके बाद ही इस परीक्षा को पास किया जा सकता हैं।

वहीं आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए छात्र को कोचिंग पर ज्यादा विश्वास होता है, इसलिए वह सबसे पहला काम शहर की सबसे महंगी कोचिंग से जुड़ने को ही सफल होने का मंत्र मान लेता है। जबकि UPSC की तैयारी शुरू करने वाले अभ्यर्थी की पहली योजना यह नहीं होनी चाहिए।

आईएएस की तैयारी घर पर रहकर भी आपको सफल बना सकती है। इसके लिए आपको सच्ची लगन के साथ तैयारी करनी होगी। ये मन लेना की सिर्फ कोचिंग करने से ही सफलता मिलेगी ये बिलकुल गलत है घर पर सेल्फ स्टडी करके भी इस एग्जाम को पास किया जा सकता है हमने महत्वपूर्ण सुझाव दिए है जो कुछ इस तरह है :-

  1. पढ़ाई के साथ ही साथ लेखन करना भी जरूरी है।
  2. एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें।
  3. बार-बार मोक टेस्ट दीजिए।
  4. रोज़ाना न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पढ़ें।
  5. सबसे पहले एग्जाम की पूरी जानकारी होना जरूरी है।
  6. एग्जाम में आने वाले सिलेबस को समझें।
  7. रणनीति और अध्ययन की सामग्री को इकट्ठा करें।

निष्कर्ष :- UPSC Kya Hai

दोस्तों यहां हमने भारत के सबसे कठिन परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग UPSC क्या है के बारे में बताया है। इससे जुड़ी सभी जानकारियां हमने आप तक पहुंचाया है। यह आर्टिकल लिखने का उद्देश्य यह था की आप सभी को UPSC kya hai से संबंधित सभी चीजों का सही ज्ञान हो और इसलिए इस आर्टिकल में दी गई सभी जानकारियां सही है।

उम्मीद है कि यह आर्टिकल UPSC kya hai आप सभी को बहुत पसंद आया होगा। इसे पढ़ने से आपके मन के सभी परेशानियां और प्रश्न दूर हो गए होंगे तथा यूपीएससी से संबंधित जानकारियां प्राप्त हो गई होगी। यदि आप सभी के मन में भी यूपीएससी से संबंधित कोई सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। और हमरे इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे
धन्यवाद।

और पढ़ें

Mukesh Ambani Biography In Hindi

SAR Value Kya Hai

IPL ka king kon hai

FAQ’s – UPSC kya hai

Q – UPSC का फुल फॉर्म क्या है?

ANS – UPSC का फुल फॉर्म Union Public Service Commission (संघ लोक सेवा आयोग) है

Q – यूपीएससी 2023 की प्रारंभिक परीक्षा कब होगी?

ANS -UPSC 2023 की प्रारंभिक परीक्षा (prelims) 28 मई 2023 को होगी?

Q – यूपीएससी की परीक्षा कहां होती है?

ANS – यूपीएससी की परीक्षा शाहजहां रोड, नई दिल्ली स्थित यूपीएससी परिसर में आयोजित की जाती है।

Q – यूपीएससी की तैयारी में कितना समय लगता है?

ANS – आमतौर पर 1 से 2 साल की तैयारी यूपीएससी एग्जाम के लिए काफी है।

Q – यूपीएससी के लिए योग्यता क्या होती है?

ANS – इस परीक्षा में शामिल होने के लिए उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से, किसी भी विषय में ग्रेजुएट होना आवश्यक हैI

Q – UPSC के क्या कार्य है?

ANS – UPSC के क्या कार्यो की पूरी जानकारी ऊपर आर्टिकल में दी गई है

Q – UPSC की तैयारी कितने छात्र करते हैं?

ANS – हर साल लगभग 10,00,000 छात्र परीक्षा में शामिल होते हैं। 

2 thoughts on “UPSC Kya Hai – UPSC 2023 की पूरी जानकारी हिंदी में | UPSC kya Hota Hai in Hindi | UPSC Full Form”

Leave a Comment