जानिए कौन है राम मंदिर के लिए मुगलों के सैकड़ों सैनिको को मार डालने वाला योद्धा

देवीदीन पांडेय अयोध्या से 12 किलोमीटर दूर के सनेथू गांव में रहते थे जिन्होंने राम मंदिर के लिए की थी जंग

देवीदीन ने आसपास के लोगों के साथ मिलकर राम मंदिर की रक्षा के लिए बाबर की सेना से लंबा संघर्ष किया

बाबर के खिलाफ लड़ाई के लिए देवीदीन पांडेय ने खुद की 90 हजार सैनिकों की सेना बना ली थी

साल 1518 में देवीदीन पांडेय ने गुरिल्ला युद्ध लड़ा और बाबर के सैकड़ों सैनिक मार डाले

अब देवीदीन की सातवीं पीढ़ी इस गांव में रहती है

इस परिवार के पास एक तलवार भी है,जिसका इस्तेमाल उसी जंग में हुआ था

7 दिन चले इस युद्ध में बाबर की सेना की अगुवाई मीर बाकी कर रहा था 

देवीदीन पर पीछे से हमला हुआ था जिसके कारन उनकी मृत्यु हो गयी थी लेकिन तब तक वह 700 दुश्मनों को मार चुके थे

देवीदीन पांडेय के सिर पर ईंट मारे जाने के बावजूद वे पगड़ी बांधकर आखिरी सांस तक लड़ते रहे