मुगल वंश की 10 प्रभावशाली रानियाँ 

मुगल साम्राज्य के दौरान, कई शक्तिशाली रानियाँ थीं जिन्होंने राजनीतिक और सांस्कृतिक परिदृश्य में महत्वपूर्ण भूमिकाएँ निभाईं।

नूरजहाँ: सम्राट जहांगीर  की पत्नी थी और मुगल इतिहास की सबसे प्रभावशाली रानियों में से एक। वह जहाँगीर के दरबार पर काफी शक्ति और प्रभाव रखती थी और राज्य के मामलों में सक्रिय रूप से शामिल थी।

मुमताज महल: मुमताज महल, जिनका असली नाम अर्जुमंद बानो बेगम था, सम्राट शाहजहाँ की प्रिय पत्नी थीं। उसने शाहजहाँ पर अपने प्रभाव के माध्यम से मुग़ल साम्राज्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाला।

जहाँआरा बेगम: सम्राट शाहजहाँ की बेटी, उच्च शिक्षित, और मुगल दरबार में एक महत्वपूर्ण व्यक्ति। 

 मरियम-उज़-ज़मानी: सम्राट अकबर की पत्नी और सम्राट जहाँगीर की माँ, जिन्होंने गठबंधन सुरक्षित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

गुलबदन बेगम: गुलबदन बेगम सम्राट बाबर की बेटी और सम्राट हुमायूँ की सौतेली बहन थीं। उन्होंने "हुमायूं नामा" लिखा, जो एक ऐतिहासिक वृत्तांत है। 

रोशनआरा बेगम : रोशनआरा सम्राट शाहजहाँ की बेटी थी और अपने भाई, सम्राट औरंगजेब के शासनकाल के दौरान एक प्रभावशाली व्यक्ति थी। 

इन रानियों ने अपने शासनकाल के दौरान मुगल साम्राज्य के राजनीतिक और सांस्कृतिक परिदृश्य में योगदान देते हुए महत्वपूर्ण शक्ति और प्रभाव का इस्तेमाल किया। 

Mughal History: भारत में इन मुगल बादशाहों के प्यार के चर्चे रहे काफी फेमस, जानिए इतिहास