प्रेमानंद जी महाराज क्या खाते हे खाने में ? जान कर चौंक जायेंगे आप!

प्रेमानंद जी महाराज 

Thick Brush Stroke

प्रेमानंद जी राधारानी के परम भक्त एवं एक मशहूर संत हैं। उनके भजन और सत्संग में शामिल होने के लिए देश-विदेश से लोग आते हैं।

संन्यासी बनने की कहानी 

Thick Brush Stroke

महाराज जी महज 13 वर्ष की उम्र में ही संन्यासी बनने के लिए घर त्याग कर वाराणसी आ गए,और गंगा के किनारे अपना जीवन बिताने लगे।

ऐसे पहुंचे वृंदावन

Thick Brush Stroke

महाराज जी वृंदावन पहुंचने के बाद राधारानी और श्रीकृष्ण के चरणों में आ गए और भगवद् प्राप्ति में लग गए।

प्रेमानंद जी महाराज का सत्संग

Thick Brush Stroke

प्रेमानंद जी महाराज के पास सत्संग में बड़े से बड़े सेलिब्रिटी भी शामिल होते रहते हैं।

दिनचर्या और खानपान 

Thick Brush Stroke

महाराज जी के भक्त उनकी दिनचर्या को जानने के लिए काफी इच्छुक रहते हैं। यूट्यूब पर महाराज जी ने अपने दिनचर्या और खानपान के बारे में बताया  है।

कम पानी पीते हैं महाराज जी

Thick Brush Stroke

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि दोनों किडनी खराब होने के बाद भी महाराज जी दूध तो छोड़िए पानी भी बहुत कम मात्रा में पीते हे 

प्रेमानंद जी महाराज का भोजन

Thick Brush Stroke

प्रेमानंद जी महाराज बताते हैं कि डायलिसिस का शारीरिक क्षमता पर बहुत असर पड़ा है। इसलिए वे सिर्फ आधी रोटी और थोड़ी सी सब्जी खाते हैं।

भूखे रहते हैं महाराज जी 

Thick Brush Stroke

प्रेमानंद जी महाराज बताते हैं कि डायलिसिस पर रहने के बाद भी कई बार उन्हें भूखे रहना पड़ता हैं।

राधारानी का आशिर्वाद

Thick Brush Stroke

प्रेमानंद जी महाराज बताते हे की, राधारानी का नाम लेने से भूखे रहने की शक्ति मिलती हे और समय मिलने पर थोड़ा अन्न ग्रहण कर लेते हैं।

3 घंटे की नींद

Thick Brush Stroke

आपको जानकर हैरानी होगी की प्रेमानंद जी महाराज 3 घंटे से कम की नींद लेते हैं और रोजाना भोर में वृंदावन की परिक्रमा करते हैं। ये सब राधारानी के आशिर्वाद से करते हैं।

Thick Brush Stroke

ऐसी ही अधिक जानकारी के लिए हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप में जुड़े जुड़ने के लिए निचे दी गयी लिंक पर क्लीक करे