मोटे और थुलथुले पेट से सिर्फ 30 दिनों में छुटकारा पाए, खाये ये एक चीज

दालचीनी का इस्तेमाल पकवानों का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। यह एक ऐसा मसाला है जो लगभग हर घर में मिलता है और अपने अनगिनत स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है। 

लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह खाने का स्वाद बढ़ाने तक ही सीमित नहीं है बल्कि सेहत को कई फायदे भी पहुंचाता है।

इस मसाले को अपने प्रतिदिन आहार में शामिल करने का सबसे अच्छा तरीका है कि इसका हर सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ सेवन किया जाए। 

दालचीनी में फाइबर की मात्रा अधिक होती है इसलिए यह मेटाबॉलिज्म को भी बढ़ाती है जिससे आपका शरीर बहुत तेजी से फैट जलाता है। 

यह देखा गया है कि दालचीनी फैटी फूड्स के हानिकारक प्रभावों को भी कम करती है। जिससे ओवरऑल हेल्थ को फायदा होता है और वजन भी कंट्रोल में रहता है।

दालचीनी में कई एंटीऑक्सिडेंट्स और सिनामाल्डिहाइड नामक एक प्राकृतिक रसायन होता है जो प्रोजेस्टेरोन हार्मोन को बढ़ाता है। यह हार्मोन महिलाओं में गर्भावस्था के लिए जरूरी होता है। 

दालचीनी में एंटीऑक्सिडेंट, एंटी- इंफ्लेमेशन और एंटी-बायोटिक गुण पाए जाते हैं. रोज खाली पेट दालचीनी का पानी पीने से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहती है। 

दालचीनी में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट्स और फाइबर पाचन तंत्र को बेहतर करता है और पेट की बीमारियों को दूर रखता है। 

इस खबर में बताए गए उपाय सामान्य जानकारी पर आधारित हैं इसलिए किसी भी उपचार/ दवा/ डाइट को अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।